जानिए इंग्लिश क्रिकेट की मौत वाली ख़बर का इतिहास,एशेज़ सीरिज़ के आग़ाज़ के साथ

जानिए इंग्लिश क्रिकेट की मौत वाली ख़बर का इतिहास,एशेज़ सीरिज़ के आग़ाज़ के साथ

33 views
0

आज से बहु प्रतिष्ठित एशेज सीरीज शुरू हो रही है यह एशेज सीरीज कई मायनों में खास है ।जहां एक और पहली बार क्रिकेट विश्व चैंपियन बनी इंग्लैंड पर इस एशेज सीरीज में अच्छे प्रदर्शन का दबाव रहेगा,वही पिछले लगभग दो दशक से इंग्लैंड में कोई भी एशेज सीरीज नहीं जीतने का क्रम तोड़ने का ऑस्ट्रेलिया पर भी दबाव रहेगा ।बात अगर एशेज सीरीज के अंतर्गत आज होने वाले मैच की की जाए तो इस मैच में, इंग्लैंड को घरेलू परिस्थितियों का फायदा मिलने की संभावना है और इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया से थोड़ी मजबूत दिखाई दे रही है लेकिन स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी का आधार है तो गेंदबाज भी अच्छी लय में हैं।

एशेज सीरीज शुरू होने का रोमांचक इतिहास

इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया से कहीं मजबूत थी इंग्लैंड को उसी की धरती पर हराना बहुत मुश्किल काम था लेकिन 29 अगस्त 1882 में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को ओवल के मैदान पर हराकर क्रिकेट जगत में सनसनी फैला दी इसी हार पर एक वरिष्ठ पत्रकार द्वारा लिखे गए समाचार ने ही एशेज की शुरुआत होने में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई
दरअसल इस पत्रकार ने अपनी खबर में लिखा कि 1882 को ओवल के मैदान में इंग्लिश क्रिकेट की मौत हो गई

लाश का अंतिम संस्कार किया जाएगा और उसकी अस्थियां ऑस्ट्रेलिया की टीम अपने साथ ले जाएगी

इस हार के बाद हर कोई कहने लगा कि इंग्लिश क्रिकेट मर गया और उसकी अस्थियां ऑस्ट्रेलिया चली गई जो अब वापस नहीं आएंगी. इस बात ने इंग्लैंड की क्रिकेट टीम को इतनी ठेस पहुंचाई कि उन्होंने ठान ली कि अब तो अपनी हार का बदला वह ऑस्ट्रेलिया से लेकर ही रहेंगे. किस्मत से उसी साल सर्दियों में इंग्लैंड की टीम को एक टेस्ट सीरीज के दौरे पर ऑस्ट्रेलिया जाना था. यही वह पल था जिसके लिए इंग्लिश क्रिकेट के सारे खिलाड़ी आस लगा के बैठे हुए थे. वह सब अपनी बेइज्जती का बदला लेना चाहते थे
तीन मैचों की सीरिज में से इंग्लैंड की टीम ने दो मुकाबले जीते. इसके साथ ही उन्होंने अपना बदला तो पूरा किया मगर एक नई जंग की शुरुआत कर दी.

माना जाता है कि इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की एक समाज सेविका लेडी जेनेट क्लार्क ने मजाक के तौर पर इंग्लैंड के कप्तान इवो ब्लिग को बेल्स की राख (एशेज) तोहफे में दी, जो इस सिरीज का प्रतीक बनी।

12 से 18 माह के अंतराल में होने वाली एशेज सिरीज में पाँच टेस्ट खेले जाते हैं। एशेज में हमेशा से ही ऑस्ट्रेलिया का दबदबा रहा है एशेज में सर डॉन ब्रेडमैन के नाम सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। ब्रेडमैन ने एशेज सिरीज में कुल 5028 रन बनाए।

एशेज सीरिज़  में विकेट लेने में ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर शेन वॉर्न सबसे आगे हैं। वॉर्न ने एशेज के दौरान कुल 195 बल्लेबाजों को आउट किया। बहरहाल क्रिकेट प्रेमियों की नज़र इस बात पर है कि इस बार सीरिज़ के सरताज कौन से क्रिकेटर्स होंगे।

Written By जितेन्द्र  पारीक

#SportsValley

#TheViralTv

About author

Your email address will not be published. Required fields are marked *